Crypto exchange क्या हैं और कैसे इस्तेमाल करें

अभी फ़िलहाल क्रिप्टो करेंसी का मार्केट कैप 1 ट्रीलियन डॉलर, तक़रीबन 1 लाख करोड़ रुपये से ऊपर है. अगर इसी को सीधी भाषा में समझाए तो फ़िलहाल दुनिया भर के लोगों ने 1 लाख करोड़ रुपय की क्रिप्टो करेंसी खरीद रखा है. तो आप सोच सकते है की क्रिप्टो बाज़ार कितना बड़ा है.

भारत में लगभग 10 करोड़ से ऊपर क्रिप्टो निवेशक हैं, और इसकी संख्या लगातार बढ़ रही है. सरकार ने इस चीज़ को लेकर चिंता भी जाहिर की थी, पढ़े क्रिप्टो का भविष्य

ऐसे में अगर आप भी क्रिप्टो करेंसी के नए निवेशक बनाना चाहते है, या फिर क्रिप्टो की खरीद बिक्री (Trade) करना चाहते है, तो सबसे पहले क्रिप्टो एक्सचेंज और इससे जुड़े सभी टर्म को अच्छे से जान ले. कैसे करें क्रिप्टो में निवेश

Crypto exchange kya hai

क्रिप्टो एक्सचेंज एक ऑनलाइन व्यापार है, जिसमे आप सभी तरह के क्रिप्टो करेंसी को फ़िएट मनी (कागजी मुद्रा) से खरीद सकते है और फिर उसी क्रिप्टो करेंसी को आप पुनः बेचकर कागजी मुद्रा में बदल सकते है. यह एक्सचेंज कंपनी ब्रोकरेज के तरह काम करती है. यह आपके प्रत्येक लेन-देन पर कुछ रूपये कमिसन के तौर पर चार्ज करती है. भारत में आप क्रिप्टो एक्सचेंज नेट बैंकिंग , क्रेडिट कार्ड , या UPI के मदद से कर सकते हैं.

क्रिप्टो एक्सचेंज के प्रकार

क्रिप्टो एक्सचेंज मुख्यता तिन प्रकार के होते है, जिसमे आपको अलग -अलग ट्रेड करने की सुविधा मुहैया कराया गया है.

1.केन्द्रीकृत क्रिप्टो एक्सचेंज CEX

यह पारम्परिक स्टॉक एक्सचेंज के तरह ही है. इसमें क्रेता और विक्रेता एक साथ आते है, लेकिन दोनों के बिच सौदा तीसरे आदमी के द्वारा होता है. यहाँ केन्द्रीकृत का अर्थ है की आप अपने रूपये का नियंत्रण किसी तीसरे के हाथ में दे रहें है. आसन भाषा में अगर यहाँ आपको कोई क्रिप्टो करेंसी खरीदना है तो सबसे पहले पैसा ब्रोकर के पास जमा करना होगा. उसके बाद वह किसी दुसरे सेलर को कांटेक्ट करेगा जो फिलहाल उसी मूल्य का क्रिप्टो करेंसी बेंच रहा होगा. सारे CEX इसी तरह काम करते है. इसमें लेन-देन काफी असुरक्षित है. लेकिन यह आपको ट्रेडिंग के लिए अच्चा प्लेटफार्म प्रदान कर्ता है. कुछ केन्द्रीकृत क्रिप्टो एक्सचेंज के नाम इस तरह है

  • coinbase
  • Binance
  • Wazirx
  • kucoin
  • bitfinex

2.विकेन्द्रीकृत क्रिप्टो एक्सचेंज DEX

यह एक्सचेंज पहले एक्सचेंज CEX से बिलकुल ही अलग है. इसमें आपको किसी भी ब्रोकर की आवश्यकता नहीं होती है. इसमें सारे लेन-देन क्रेता और विक्रेता के बिच होती है. उदहारण के लिए, अगर आपको इसमें क्रिप्टो करेंसी खरीदना है तो आप डायरेक्ट किसी अन्य विक्रेता से खरीद सकते है. यह एक्सचेंज trade के लिए काफी सुरक्षित है. यहाँ ब्रोकर शुल्क भी नहीं देना होता है. लेकिन इसका यूजर इंटरफ़ेस उतना बढ़िया नहीं है. कुछ विकेन्द्रीकृत क्रिप्टो एक्सचेंज इस तरह है,

  • IDEX
  • WAVES DEX
  • BISQ DEX

3.हाइब्रिड क्रिप्टो एक्सचेंज HEX

यह भविष्य का सबसे बेहतरीन क्रिप्टो एक्सचेंज रहने वाला है. यहाँ पर आप दोनों तरीकों से क्रिप्टो करेंसी का trade कर सकते है. इसकी सहायता से आप क्रिप्टो करेंसी ब्रोकर के मदद से खरीद सकते है या डायरेक्ट किसी सेलर से कांटेक्ट कर सकते है. यह एक्सचेंज बेहतरीन trade सुविधा के साथ सुरक्षा भी प्रदान करता है. कुछ हाइब्रिड क्रिप्टो एक्सचेंज इस तरह से है ,

  • QURREX

क्रिप्टो एक्सचेंज का चयन

हमने अभी तक लगभग क्रिप्टो एक्सचेंज के सभी टर्म को समझ लिया है. लेकिन अब यहाँ सवाल जरूर होगा की इसका चयन कैसे करें और भारत में बेस्ट क्रिप्टो एक्सचेंज कौन है . कोई भी क्रिप्टो एक्सचेंज चयन करने से पहले हमें कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक है.

  • वैसे क्रिप्टो एक्सचेंज का चुनाव करें जो आपको मोबाइल ऐप की सुविधा मुहैया करवाता हो. इसकी मदद से आप कही से trade कर सकते है.
  • चुनाव से पहले उस क्रिप्टो करेंसी को जरूर चेक करले, जिसमे आपको trade करना है.
  • जितने भी भरोसेमंद क्रिप्टो एक्सचेंज है. वह आपसे kyc की जरूर मांग करते है इसलिए चयन करते समय इस बात का जरूर धयान रखें.
  • चुनाव करने से पहले उस एक्सचेंज कंपनी के बारें में जरूर रिसर्च कर ले और अच्छे यूजर रेटिंग का साथ ही चुनाव करें.
  • सुरक्षा के लिए प्रमुख क्रिप्टो एक्सचेंज, यूजर के सभी फण्ड कोल्ड स्टोरेज में होल्ड पर रखता है. ताकि वह उसे हैकर से बचा सकें.
  • क्रिप्टो एक्सचेंज चयन करते वक़्त उसके पेमेंट मेथड, सिक्यूरिटी , फीस , कस्टमर सपोर्ट के बारे में जरूर जाँच करलें.

Leave a Comment